सोमनाथ सेन

आप यहां हैं: होम > हमारे बारे में > कोर टीम > सोमनाथ सेन

Somnath Sen

Chief – Practice
ssen
at iihs dot ac dot in

शिक्षा:
पी.जी.डी.आर., आई.आर.एम.ए.; बी.ए., ऑनर्स (इकोनॉमिक्स), सेंट स्टीफन कॉलेज, दिल्ली विश्वविद्यालय


अकादमिक कार्य एवं शोधः
सोमनाथ को रणनीतिक प्रबंधन, संस्थागत सुधार और शासन, विकेन्द्रीकरण और शहरी प्रबंधन में अंतरराष्ट्रीय परामर्श का 23 से अधिक वर्षों का अनुभव है।

अभ्यास (प्रैक्टिस):
सोमनाथ ने दक्षिण एशिया, अफ्रीका और चीन में सरकारों के साथ साथ निजी क्षेत्र, द्विपक्षीय और बहुपक्षीय संस्थानों, और अंतरराष्ट्रीय गैर सरकारी संस्थाओं के लिए कई सारे संस्थागत विकास और रणनीतिक सलाह कार्यों का प्रबंधन और नेतृत्व किया है। उनके हाल के कार्यों में, भारत की राष्ट्रीय शहरी स्वच्छता नीति (एन.यू.एस.पी.), प्रथम श्रेणी के भारतीय शहरों की स्वच्छता रेटिंग (2010), भारत विजन के लिए वायु और जल प्रदूषण अध्ययन 2030 (विश्व बैंक/पर्यावरण एवं वन मंत्रालय); भारत में विश्व बैंक के ग्रामीण जल निवेश का प्रभाव आकलन; मोन्रोविया में प्राथमिक अपशिष्ट संग्रह के लिए रणनीति; इथियोपिया में एक राष्ट्रीय सार्वजनिक क्षेत्र के क्षमता निर्माण कार्यक्रम के लिए बहु क्षेत्र की निगरानी और मूल्यांकन; दक्षिण एशिया में स्वच्छता का अर्थशास्त्र; पानी के क्षेत्र के लिए सेवा प्रदानगी आकलन; बांग्लादेश के शहरी शासन कार्यक्रम निवेश का डिजाइन; विकासशील देशों में शहरों के लिए सार्वजनिक शौचालय आदि के निर्माण के लिए सहायता प्रदान करना शामिल है। उनके ग्राहकों में राष्ट्रीय और स्थानीय सरकारों के अलावा बहुपक्षीय (पश्चिम बंगाल, एशियाई विकास बैंक, यूनिसेफ); द्विपक्षीय (डी.एफ.आई.डी., जी.आई.एड., ऑसएड, एस.आई.डी.), अंतरराष्ट्रीय गैर सरकारी संस्थाएं शामिल हैं। उन्हें 25 भारतीय राज्यों के 300 से अधिक जिलों,  भारत में विभिन्न शहरों, और इथियोपिया, लाइबेरिया, चीन, बांग्लादेश और श्रीलंका में प्रांतों/शहरों में व्यापक कार्यक्षेत्र का अनुभव है।

Pव्यावसायिक संघ:
तरू (टी.ए.आर.यू.) के संस्थापक निदेशकों में से एक, ट्रस्टी, कीस्टोन फाउंडेशन

शिक्षण:
शहरी शासन, निर्मित रूप (बिल्ट फोर्म), बुनियादी ढाँचा और पर्यावरण; शहरी बुनियादी ढाँचा सेवाएं; प्रणाली (सिस्टम) गतिशीलता और उपकरण और विधियां