नगरीय वृत्तिक/व्यावसायिक कार्यक्रम (यूपीपी)

नगरीय वृत्तिक/व्यावसायिक कार्यक्रम (यूपीपी) ऐसे नगरीय वृत्तिकों के लिए एक सतत शिक्षा एवं क्षमता निर्माण कार्यक्रम है, जो सार्वजनिक, निजी, शैक्षणिक और सिविल सोसाइटी क्षेत्रों के विभिन्‍न विषयों और स्‍तरों से संबंधित होते हैं। IIHS में हमारा मानना है कि नगर का रूपान्‍तरण व्‍यापक रूप से वृत्तिकों के सामूहिक प्रयासों पर आश्रित होता है जो  एक सूचित, बाध्‍य और सृजनात्‍मक तरीके से चुनौतियों का सामना करते हैं।

हमारे शिक्षण कार्यक्रम संस्‍थानों और वृत्तिकों के लिए ज्ञान के नए तंत्रों की पेशकश करते हैं जिनमें कौशलों के पैकेज शामिल होते हैं। इन कार्यक्रमों में भारतीय नगरों में वृत्ति पर अद्वितीय फोकस पर बल दिया जाता है और इन्‍हें आंतरिक संकाय और शैक्षणिक व पेशेवर सलाहकारों के एक स्‍फूर्त समूह द्वारा सिखाया जाता है।

यूपीपी पोर्टफोलियो का विस्‍तार वृत्ति के क्षेत्रों, विषयों और पैमानों तक है तथा यह तीन स्‍तरों पर हस्‍तक्षेप करने का प्रयास करता है:

  1. नगरीय चुनौतियों के लिए वृत्तिकों की रणनीतिक संभावनाएं एवं उन्‍मुखीकरण
  2. ऐसी चुनौतियों का आंकलन करने के लिए नियुक्‍त किए गए ज्ञान तंत्र
  3. कुशलतापूर्वक और स्‍थाई तरीके से उनका निपटाना करने के लिए कार्यान्‍वयन कौशल

अपने शिक्षार्थियों की विविधता को देखकरऔर उनकी क्षमताओं का अनुमान लगाकर हमारे पाठ्यक्रमों को एक अंतर्वैषयिक दृष्टि के जरिए तैयार किया जाता है जो चुनौतियों को हल करने के लिए एक एकीकृत नजरिए की अनुमति देंगे। इन पाठ्यक्रमों को अंत:-पारस्‍परिक  प्रारूपों के माध्‍यम से चलाया जाएगा जो साथ-साथ सीखने और अनुभव साझा करने पर के‍न्द्रित है, जिसके द्वारा हमें नगरों में वृत्तिकों के बीच नेटवर्कों का निर्माण करने की आशा है।

पाठ्‌यक्रम

यूपीपी के पाठ्‌यक्रम, अंतर-वैषयिक दृष्टिकोण से विश्लेषित भारतीय नगरों में मौजूदा वृत्तियों पर केंद्रीयकरण करते हुए, संस्थानों तथा कार्यरत पेशेवरों को कौशलों का सम्मिलित पैकेज व ज्ञान की नई रूपरेखाएं प्रदान करते हैं। ये पाठ्‌यक्रम, प्रतिभागियों को अधिक दक्षतापूर्वक, समतापूर्वक और टिकाऊ ढंग से, मौजूदा सार्वजनिक कार्यक्रमों की योजना बनाने, प्रस्तुत करने व प्रबंधित करने व निजी व नागरिक समुदाय नेतृत्व वाली विकास गतिविधियां करने में सक्षम बनाते हैं।

संस्थागत भागीदारी

नगरीय वृत्तिक कार्यक्रम, विविध प्रशिक्षण एवं क्षमता-सृजन कार्यक्रमों के लिए नगरीय क्षेत्र में मुख्य संस्थानों से गठबंधन करता है। यह वैषयिक क्षेत्रों जैसे कि किफायती आवासन, नगरीय जलापूर्ति तथा स्वच्छता, भूस्थानिक प्रौद्योगिकी, एवं जलवायु परिवर्तन के प्रति सहनक्षमता निर्माण, तथा आपदा जोखिम न्यूनीकरण आदि में कार्यशालाएं व पाठ्‌यक्रम आयोजित करता है। इन साझेदारियों के अंतर्गत यूपीपी भारत में सभी पदसोपानक्रमों व भौगोलिक क्षेत्रों में लोक क्षेत्र कार्यकारियों को प्रशिक्षित करता है।

कॉपीराइट © 2013- इंडियन इंस्टीट्यूट फॉर ह्यूमन सेटलमेन्ट्स । सर्वाधिकार सुरक्षित।